शुक्रवार, 29 अप्रैल 2011

ये फूल


ये फूल ना खिलते आज़ दामन मे मेरे ॥
ज़ो कांटो से दिल को लगाया ना होता ॥

बुधवार, 13 अप्रैल 2011

हादसे

हादसे क्या क्या तुम्हारी बेरुखी से हो गये॥
सारी दुनिया के लिये हम अजनबी से हो गये॥